Advertisement

Responsive Advertisement

Panipuri की पूरी जानकारी, इसका इतिहास, फायदे और घर पर Panipuri कैसे बनाएं।

Panipuri की पूरी जानकारी, इसका इतिहास, फायदे और घर पर Panipuri कैसे बनाएं।


Panipuri एक ऐसी चीज है जिसका नाम सुनते ही सबके मुंह में पानी आ जाता है। Panipuri हर महिला की पसंदीदा होती है, Panipuri को बड़ा हो या छोटा हर कोई Panipuri से बहुत प्यार करता है।घर पर Panipuri कैसे बनाएं।

Panipuri कब लोकप्रिय हुआ? (Panipuri का इतिहास)


Panipuri एक ऐसी डिश है जो कई साल पुरानी है। Panipuri की शुरुआत सबसे पहले द्रौपदी ने महाभारत के समय में की थी।

उस समय के बारे में दो कहानियां हैं, जिस दौरान Panipuri शुरू हुई थी।

  1. मगध के बारे में कहा जाता है कि मगध के समय में यह व्यंजन जीभ का स्वाद बढ़ाने के लिए बनाया जाता था। उस समय Panipuri का क्या नाम था यह नहीं कहा जा सकता। Panipuri की शुरुआत हुई थी। आज इसे बिहार के नाम से जाना जाता है। जिस व्यक्ति ने पानी पुरी की शुरुआत की उसका नाम कभी भी कहीं नहीं बताया गया लेकिन आज के लोग उसके बहुत आभारी हैं।

  2. महाभारत के समय: कहा जाता है कि जब पांडव अंधकार में रह रहे थे, तब उनका विवाह द्रौपदी से हुआ था। पांडवों की माता कुंती ने द्रौपदी की पहली पाक कला परीक्षा ली थी। माँ कुंती ने नवविवाहित वाहू द्रौपदी को कुछ सामान दिया और कहा कि कुछ चीजों के साथ एक स्वादिष्ट पकवान बनाओ जो सभी का पेट भर देगा। माँ कुंती ने आलू और थोड़ा आटा दिया। फिर द्रौपदी ने आटे से छोटी-छोटी सख्त पूरियां बनाईं और आलू से मसाला बनाकर तीखा पानी तैयार किया. वहीं से पानी अस्तित्व में आया।


Panipuri के लाभ


Panipuri खाने के बहुत शौकीन लोगों के लिए एक खुशखबरी है जिसे सुनकर आपको खुशी होगी, Panipuri सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होती है।भारत में महिलाएं Panipuri खाने की बहुत शौकीन होती हैं और Panipuri के बारे में सब भूल जाती हैं। Panipuri एक ऐसी चीज है जिसका नाम सुनते ही आपके मुंह में पानी आ जाता है।

घर पर Panipuri कैसे बनाएं।

शुद्ध पानी न सिर्फ स्वाद के लिए खाया जाता है बल्कि इसके कई फायदे भी होते हैं। 5 से 6 Panipuri खाने से 100 कैलोरी होती है। जब मुंह की त्वचा गिर जाती है तो पानी पीते ही यह ठीक हो जाती है। Panipuri के पानी में हींग डालकर खाने से एसिडिटी दूर हो सकती है।

पेट की समस्या: क्या आप जानते हैं कि पर्याप्त पानी पीने से कई बीमारियां ठीक हो सकती हैं? आजकल लोगों को पेट से जुड़ी कई परेशानियां होती हैं। इस दौरान अगर आप Panipuri का पानी पीते हैं तो जल स्रोत से एसिडिटी, कब्ज और पेट में गैस जैसी बीमारियां दूर हो जाएंगी।

मुंह में चांदी आना : कई लोगों के मुंह में गर्म और मसालेदार खाना खाने से मुंह के अंदर गर्माहट आ जाती है. और इसे ठीक होने में काफी समय लगता है, लेकिन अगर आप Panipuri के पानी का सेवन करते हैं तो दो दिन में आपका मुंह चांदी हो जाता है।

वजन घटाने में है बहुत फायदेमंद: अगर आप मोटापे से परेशान हैं तो Panipuri आपकी चिंता दूर कर देगा. जब आप खाना खाने बैठेंगे तो Panipuri को रोजाना 15 मिनट तक लें. इससे आपको बहुत तेजी से वजन कम करने में मदद मिलेगी. आपको आश्चर्य हो सकता है लेकिन यह सच है जैसे Panipuri के पानी में पुदीना, हल्दी, जीरा और काली मिर्च पाउडर, पुदीना डाला जाता है, यह पाचन तंत्र में सुधार करता है और पेट की समस्याओं को भी दूर करता है।

आइए अब जानते हैं घर में पानी पूरी से लेकर पूरी तक 5 तरह का पानी बनाने की विधि

घर पर Panipuri कैसे बनाएं


Panipuri पुरी को आप घर पर आसानी से बना सकते है.

घर पर Panipuri कैसे बनाएं।

कैसे बनाएं सूजी और गेहूं की पूरी:


विषय:
एक कप गेहूं का आटा
1 कप पियो
2 कप पानी
तलने के लिए तेल
नमक स्वादअनुसार

कैसे बनाना है:


500 ग्राम सूजी लें, उसमें 2 बड़े चम्मच पानी लेकर धीरे-धीरे आटा गूंथ लें, पानी कम हो तो थोडा़ सा मिला कर मैदा बना लें. आटा ज्यादा सख्त नहीं होना चाहिए और इसमें थोडा सा नमक भी मिला दीजिये. फिर आटे को 30 मिनिट के लिये ढककर रख दीजिये.गेहूं का आटा पुरी बनाने के लिये एक चम्मच बादाम, 1 कप मैदा, 1 कप गेहूं का आटा मिला लीजिये, इन सभी चीजों को मिलाइये, इसमें थोड़ा सा नमक डालिये और आटे को बांध कर ढक कर रख दीजिये. कुछ समय।

फिर गूंथे हुए आटे से छोटी छोटी रोटियां बना लें. फिर इसे रोटी की तरह गोल कर लें। फिर एक ढक्कन लें या पूरी के आकार का कटोरा लें और इसे धीरे-धीरे काट लें। काटने के बाद इसे धीरे-धीरे हटा दें। इसी तरह सारी पुरी बना लीजिये.

कढ़ाई में तेल गरम करने के लिये रखिये, फिर पूरी को तेल में डालिये और जरा की सहायता से थोड़ा दबाते हुये दबा दीजिये. ब्राउन होने तक फ्राई करें, गैस फ्रेम को थोड़ा धीमा रखें।

Panipuri का सूखा मसाला कैसे बनाये


आइए जानते हैं पानी पूरी मसाला चाटकादार बनाने की विधि के बारे में

विषय:
10 ग्राम काली मिर्च पाउडर
25 ग्राम धनिया
25 ग्राम जीरा
एक चम्मच हिलाओ
एक चम्मच हिंग
25 ग्राम लाल मिर्च पाउडर
नमक स्वादअनुसार

कैसे बनाना है:


सबसे पहले धनिया और जीरा को तवे पर महक आने तक भूनें। भुना धनिया डाल कर ठंडा होने दीजिये.'
इस मिश्रण को मिक्सी में बारीक पीस लीजिये, फिर ऊपर दी गयी सारी सामग्री को मिला कर मिक्स कर लीजिये. Panipuri का तीखा मसाला तैयार है.

Panipuri मसाला बनाने की विधि


वाटर पुरी मसाला के लिए हम 2 तरह का मसाला बना सकते हैं जिसमें 1 सूखा और दूसरा घिसा हुआ मसाला हो.

विषय:
पांच आलू
एक कटोरी सूखे छोले
थोडा सा धनिया
नींबू
2 बड़े चम्मच लाल मिर्च पाउडर
एक छोटा चम्मच व्हिपिंग पाउडर
1 प्याज
5 हरी मिर्च
चाट मसाला
Panipuri का तैयार मसाला
बूंदी

कैसे बनाएं:


सबसे पहले छोले को धोकर चार घंटे के लिए भिगो दें, फिर कुकर में 5 से 6 सीटी लगाकर उबाल लें. फिर आलू को धोइये, थोडा़ सा पानी डालिये, चार सीटी बजाइये और उबालिये. सबसे पहले उबले हुए आलू और छोले को प्याले में डालिये और मसल लीजिये. लाल मिर्च पाउडर, चाट मसाला डालिये और मिलाइये, कटा हुआ प्याज़ डालिये, थोडा़ सा कटा हरा धनिया डालिये. Panipuri मसाला तैयार है.

गरम गरम रगड़ा Panipuri नहीं मसाला


विषय:
1 कप सूखे मटर
2 प्याज
छह से सात लहसुन की कलियाँ
दो बड़े उबले आलू
दो टमाटर
2 बड़े चम्मच लाल मिर्च पाउडर
एक छोटा चम्मच धनिया पाउडर
एक चम्मच हल्दी
दो चम्मच नींबू का रस
1 बड़ा चम्मच जीरा
1 बड़ा चम्मच राई
एक कप धनिया
जलापूर्ति
अम्ब्ली ताड़ का पानी

रगड़ा कैसे बनाते हैं:


सबसे पहले सूखे मटर को 4 घंटे के लिए पानी में भिगो दें। फिर कुकर में थोडा़ सा पानी और नमक डाल कर तीन से चार सीटी आने तक उबलने दीजिये, फिर आलू उबाल लीजिये, गैस पर फ्राई पैन गरम कर लीजिये. फिर बारीक कटा हुआ प्याज़ डालें।प्याज को हल्का भूरा होने दें। फिर लहसुन, अदरक और मिर्च का पेस्ट डालें और एक मिनट तक चलाएँ।

कटे हुए टमाटर डाल कर 3 मिनिट तक चलाते रहिये, लाल मिर्च पाउडर, धनिया पाउडर, हल्दी डाल कर, उबले आलू और मटर डाल कर अच्छी तरह मिला दीजिये, 2 मिनिट बाद पानी और इमली का पानी डाल कर 10 से 15 मिनिट तक उबलने दीजिये. थोडा़ सा पानी पुरी मसाला डालिये, स्वाद बहुत अच्छा लगेगा और थोडा़ सा पानी डालिये, दस मिनिट बाद गैस बंद कर दीजिये. गरमा गरम रब तैयार है. कटा हरा धनिया, प्याज से सजाकर सेव कर लें।

Panipuri का बहुत तीखा और तीखा पानी कैसे बनाये


घर पर Panipuri कैसे बनाएं।

बहुत तीखा और तीखा पानी
विषय:
एक कटोरी पुदीना
2 कटोरी धनिया
1 इंच अदरक का टुकड़ा
3 हरी मिर्च
नमक
नींबू
अमचूर पाउडर
केंद्रित नमक

पानी कैसे बनाएं:


सबसे पहले पुदीना धनिया नैपान को धोकर मिक्सर जार में डालिये और अदरक, हरी मिर्च और पानी डालकर पेस्ट बना लीजिये. अब एक कढ़ाई में 3 कप पानी डालिये और इसमें थोड़ा सा नमक और एक छोटी चम्मच Panipuri तैयार मसाला डालिये और 1 नींबू का रस डालिये अगर नींबू का रस नहीं है तो अमचूर पाउडर का इस्तेमाल किया जा सकता है. फिर पानी को हिलाएं और एक घंटे के लिए ठंडा होने के लिए रख दें। फिर इसे छलनी की मदद से छान लें। अब हमारा पानी बनकर तैयार है.अगर आप इसे ऐसे बनायेंगे तो बाहर जाने पर स्वादिष्ट पानी लगेगा.

लहसुन और लाल मिर्च का स्वादिष्ट पानी


विषय:
दो लाल मिर्च
10 लहसुन की कलियाँ
नमक

पानी कैसे बनाएं:


सबसे पहले दो लाल मिर्च को गर्म पानी में काट कर आधे घंटे के लिए छोड़ दें फिर मिक्सर जार में लहसुन की 10 कलियां, नमक, दो लाल मिर्च और थोड़ा सा पानी डालकर पेस्ट बना लें. फिर इसे एक बाउल में निकाल लें। इसे गाड़ी से चरागाह में निकालें, फिर इसमें थोड़ा सा नमक और नींबू का रस मिलाएं.Panipuri बनाना है तो इस पानी को ट्राई करें.

हिंग का हाजमा हाजम का स्वस्थ पानी


विषय:
खजूर इमली का पेस्ट
नमक
चलती
हिंग
चाट मसाला

पानी कैसे बनाएं:


एक बाउल में खजूर इमली का पेस्ट, नमक, सौंफ, चाट मसाला और हींग डालकर मिक्सी में पेस्ट बना लें। फिर 2 कप पानी लेकर उसमें ऊपर दिया हुआ पेस्ट डाल कर मिला दीजिये, पानी पूरी का पानी तैयार है.

जीरा पानी


विषय:
भुना जीरा पाउडर
चलती
नमक
नींबू का फूल

पानी कैसे बनाएं:


सबसे पहले एक बाउल में भुना जीरा पाउडर, नमक, लेमन ब्लॉसम और दो कप पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें, जीरा पानी तैयार है.

खजूर इमली का तीखा पानी


विषय:
एक कटोरी इमली
1 छोटी कटोरी गोल
पांच तिथियां
नमक स्वादअनुसार
1 बड़ा चम्मच धनिया
1 छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर

पानी कैसे बनाएं:


सबसे पहले एक कड़ाही में गर्म पानी लें, उसमें खजूर और इमली डालकर कुछ देर गर्म करने के लिए गैस पर रख दें, उसमें गुड़ डाल दें फिर गैस बंद कर दें. और इस पानी को ठंडा होने के लिए रख दें। फिर मिश्रण में इमली और खजूर लें और थोड़ा नमक डालें। 1 चम्मच लाल मिर्च पाउडर और 1 चम्मच धनिया पाउडर मिलाकर पेस्ट बना लें। हमारी खजूर इमली का पानी तैयार है

 Read More : 

 

अगर आपको यह लेख पसंद आया हो तो कृपया इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करें।

Post a Comment

1 Comments